कुम्भ सेवा मित्र

कुम्भ सेवा मित्रः आजीवन एक स्वयं सेवा कार्य

जैसा कि प्रयागराज कुम्भ मेला-2019 के लिए सम्पूर्ण विश्व से आने वाले, पर्यटकों, श्रद्धालुओं का स्वागत करने के लिए तैयार हो रहा है, नवयुवक स्वयंसेवकगण कुम्भ मेला-2019 का चेहरा एवं रीढ़ की हड्डी बनने जा रहे हैं।

इस बात को ध्यान में रखते हुए प्रयागराज मेला प्राधिकरण ने स्वयंसेवकों को संलिप्त करने के लिये सितम्बर, 2018 में कुम्भ सेवा मित्र कार्यक्रम आरम्भ किया। जारी कार्यक्रम को इस आयोजन हेतु युवा शक्ति को प्रेरित करने और संलग्न करने पर केन्द्रित किया गया है।

इस घटनाक्रम का प्रथम चरण का प्रथम पड़ाव पंडित गोविन्द बल्लभ पंत सामाजिक विज्ञान संस्थान प्रयागराज था जहां लगभग 150 छात्रों ने कार्यक्रम में भागीदारी किया। हाल फिलहाल में एक कार्यक्रम इलाहाबाद विश्वविद्यालय में सम्पन्न हुआ जहां इसे 1200 से अधिक छात्रगण की भागीदारी के साथ बहुत अच्छी प्रतिक्रिया प्राप्त हुई। यह कार्यक्रम मेला का शुद्ध सेवा-भाव को समर्पित रहा है।

कुम्भ सेवा मित्र के लिये नामांकन कार्यक्रम आगामी वर्ष में कुम्भ मेला पर्व के अवसर पर स्वयंसेवा हेतु युवा शक्ति को आकर्षित करने का लक्ष्य रखती है। कुम्भ सेवा मित्र कार्यक्रम में नामांकित किये गये स्वयंसेवकगण विभिन्न भूमिकाओं में पांच विभिन्न विभागों में नाव प्रबंधन, टेंट सेवायें और घाट प्रबन्ध हेतु प्रयागराज मेला प्राधिकरण; यातायात एवं आवागमन प्रबन्धन, भीड़ नियंत्रण एवं खोया पाया सेवायें हेतु कुम्भ मेला, पुलिस विभाग, स्वास्थ्य सेवायें हेतु स्वास्थ्य विभाग; पर्यटक गाइड्स एवं पर्यटक सेवायें प्रबन्धन हेतु पर्यटन विभाग और मीडिया एवं प्रेस सेवायें प्रबन्धन हेतु सूचना एवं प्रसारण विभाग के अधीन कार्यरत होंगे।

कुम्भ सेवा मित्र